You are currently viewing PM Kisan Yojana 11th Installment: अगर आपकी 11वीं किस्त रोकी गई है तो तत्काल करे ये प्रोसेस
PM Kisan Yojana 11th Installment Update

PM Kisan Yojana 11th Installment: अगर आपकी 11वीं किस्त रोकी गई है तो तत्काल करे ये प्रोसेस

PM Kisan Yojana 11th Installment: क्या आपकी भी रोकी गई है किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त, तत्काल करें ये काम

11th Installment Kisan Samman Nidhi प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने पिछले दिनों अपनी सरकार के 8 साल पूरे होने पर बटन दबा कर दिल्ली-एनसीआर समेत 10 करोड़ से अधिक किसानों के खातों में 2000-2000 रुपये ट्रांसफर किए हैं। पीएम किसान सम्मान निधि योजना की 11वीं किस्त देशभर के 10 करोड़ से ज्यादा किसानों के खातों में ट्रांसफर कर दी गई है.

eKYC नहीं होने पर पीएम किसान निधि की रकम खातों में नहीं आएगी 

अगर आपने eKYC नहीं करवाई है तो जल्द जल्द से करवा लीजिए नहीं तो eKYC नही होने कारण आपके खाते में पीएम किसान निधि के पैसे नहीं आ पाएंगे 

पीएम किसान पोर्टल के अनुसार सभी लाभार्थी किसानों को ईकेवाईसी करवाना अनिवार्य है।  ऐसे में किसान सम्मान निधि की 11वीं किस्त प्राप्त करने के लिए eKYC अनिवार्य है।  जिन लोगों ने ईकेवाईसी करवाई है, उनके खाते में पैसा आ गया है।

PM Kisan Yojana 11th Installment Update
PM Kisan Yojana 11th Installment Update

इन तरीकों से करवा सकते है eKYC 

eKYC करवाने के लिए आपको पीएम किसान की वेबसाइट अथवा 

अपने नजदीकी साइबर कैफे जाकर केवाईवी करवानी होगी। जिन किसानों ने ई-केवाईसी नहीं करवाया है, उनकी 11वीं किस्त रोक दी गई है।  अगर आपकी किसान सम्मान राशि नहीं आ रही है, तो हो सकता है कि आपने eKYC नहीं किया हो।

पीएम किसान निधि की स्थिति ऐसे चेक करें 

1st Step :- पीएम किसान की आधिकारिक वेबसाइट https://pmkisan.gov.in पर जाएं।

2nd Step:-  इसके बाद होम पेज पर आपको किसानों से संबंधित जानकारी का विकल्प मिलेगा, इस पर क्लिक करें।

3rd Step :- इसके बाद लाभार्थियों की सूची पर क्लिक करें। इसके आप आपना राज्य, जिला, उप जिला, ब्लाक और गांव का चयन करें। 

4th Step :- इसके बाद में गेट रिपोर्ट पर क्लिक करें। अगर आपका नाम बेनेफिशयरीज की लिस्ट है तो आपके खाते में रकम आएगी और अगर नहीं तो आप अपने नजदीकी कृषि सहायता केंद्र पर जाकर पोर्टल की मदद से या ऑफलाइन गड़बड़ी सही कराएं। 

सरकार द्वारा आधार से जुड़े किसानों के लिए ईकेवाईसी अनिवार्य कर दी गई थी, लेकिन यूपी के गाजीपुर जिले में 176425 किसान ऐसे हैं जिन्हें इस योजना के तहत आर्थिक मदद नहीं मिल पाई है.  इसके पीछे कारण यह है कि इन किसानों ने 31 मई, ईकेवाईसी की अंतिम तिथि तक अपना ईकेवाईसी सत्यापन नहीं कराया है। 

Leave a Reply