You are currently viewing Jhum Kheti : झूम खेती करके आप हो सकते है मालामाल जानने के लिए पूरा पढ़िए ।

Jhum Kheti : झूम खेती करके आप हो सकते है मालामाल जानने के लिए पूरा पढ़िए ।

Jhum Kheti : झूम खेती करके आप हो सकते है मालामाल और जानिए झूम की खेती कहाँ होती हैं,किसान भाई भी अपने खेतों में झूम की खेती करते हैं। जो देश के कुछ हिस्सों में उगाया जाता है। भारत कृषि की दृष्टि से एक महत्वपूर्ण देश है। इसकी दो से तीन तिहाई आबादी कृषि और कृषि से संबंधित कार्य करती है, लेकिन फिर भी भारत के कुछ हिस्सों में झूम की खेती की जाती है।

झूम की खेती क्या है ? (What is jhum cultivation?)

झूम की खेती (Jhum Ki Kheti) प्रकार की खेती है इस खेती को पुराने में से एक माना जाता है इस खेती को पिछले कई सालों से किया जा रहा है

jhum cultivation in india
jhum cultivation in india

झूम खेती में वनों को काटकर जला दिया जाता है व क्यारीया बनाई जाती है इसके बाद फ़सल बोई जाती है इसके साथ ही अन्य जगहों पर भी इसी तरह से यह खेती की जाती है। इस प्रकार की खेती ज्यादातर पहाड़ों में की जाती है। उदाहरण के लिए मेघालय, अरुणाचल प्रदेश जैसे पूर्वोत्तर राज्यों में झूम की खेती अधिक की जाती है। झूम खेती को ही स्थानान्तरणशील कृषि भी होती है और इस खेती को अलग-अलग राज्यों में अलग-अलग नामों से जाना जाता है.

Google News
Google News

झूम खेती से जुड़े कुछ रोचक तथ्य (Some interesting facts related to Jhum cultivation)

  • झूम की खेती के लिए किसान अपनी फसल की कटाई के बाद कुछ वर्षों के लिए अपने खेतों को खाली छोड़ देते हैं।
  • इसके बाद खाली जमीन पर पेड़ व पौधे उग जाते है. जिन्हें उखाड़ा नहीं जा सकता है. सिर्फ जलाया जा सकता है.
  • झूम खेती की मुख्य विशेषता यह है कि इस खेती को करने के लिए किसान को अपनी जमीन जोतने की जरूरत नहीं है, क्योंकि झूम की खेती के लिए जमीन की अनुमति नहीं है।
  • झूम की खेती करने के लिए किसान को बस मिट्टी को थोड़ा बहुत हिलाकर बीज छिड़क दिया जाता है.
  • झूम की खेती में उगाई जाने वाली मुख्य फसल चावल है। इतना ही नहीं इस खेती में अन्य फसलें भी उगाई जाती हैं। जैसे- खाद्य फसलें, नकदी फसलें, वृक्षारोपण फसलें, बागवानी फसलें आदि।
  • देखा जाए तो झूम की खेती पूरी तरह से प्रकृति पर निर्भर है और इस खेती का उत्पादन भी बहुत कम होता है।
FOLLOW ME
मैं नवराज बरुआ, में मुख्य रूप से इंदौर मध्यप्रदेश का निवासी हुं। और में Mandi Market प्लेटफार्म का संस्थापक हूँ। मंडी मार्केट (Kisanguide.com) मूल रूप से मार्केट में चल रही ट्रेंडिंग खबरों को ठीक से समझाने और पाठकों को मंडी ख़बर, खेती किसानी की जानकारी देने के लिए बनाया गया है। पोर्टल पर दी गई जानकारी सार्वजनिक स्रोतों से प्राप्त की गई है।
3b007314ce2dbf44c150a2643ef016ce?s=250&d=mm&r=g
FOLLOW ME

Leave a Reply