You are currently viewing Cardamom Farming: इलायची की खेती करके कमाए अधिक लाभ जानने के लिए क्लिक करें।

Cardamom Farming: इलायची की खेती करके कमाए अधिक लाभ जानने के लिए क्लिक करें।

इलायची की खेती करके कमाए अधिक लाभ जानने के लिए क्लिक करें।

नमस्ते किसान भाईयों आज के पोस्ट में हम जानेंगे कि इलायची की खेती (Cardamom Cultivation) कैसे होती है इसके साथ ही जानेंगे इलायची की बुवाई, सिंचाई, कटाई, लाभ और उपज के बारे मे!

लाखों का होगा मुनाफा

इलायची की खेती (Cardamom Farming) 2000 रुपए प्रति किलो तक बिकती है। इलायची की खेती करके किसान भाई काफी अच्छा मुनाफा कमा सकते हैं। इसका उपयोग मुखशुद्धि के साथ ही मसालों के साथ किया जाता है। इसे मिठाई में खुशबू के लिए भी इस्तेमाल किया जाता है। यदि सही तरीके से इसकी खेती की जाए तो इससे काफी अच्छा लाभ कमाया जा सकता है।

बुवाई का समय

खेत में पौधों की रोपाई बरसात (जुलाई) में की जाती है।

बीज की मात्रा

प्रति हेक्टेयर एक से सवा किलो बीज काफी होते हैं।

फसल अवधि

इलायची के पौधे 2 से 3 साल बाद उत्पादन देना शुरू कर देते हैं।

जो 10 से 12 साल तक उत्पादन देते हैं।

यह भी पढ़े: Gram Farming: चने की खेती है फायदे का सौदा, जानें आधुनिक खेती के टिप्स।

मिट्टी और जलवायु

इसकी खेती के लिए लाल दोमट मिट्टी सबसे उपयुक्त मानी जाती है। किसी अन्य प्रकार की मिट्टी में भी खाद व उर्वरकों का उपयोग करके खेती की जा सकती है।

भूमि का पीएच मान 5 से लेकर 7.5 तक होना चाहिए।

10 डिग्री से 35 डिग्री सेल्सियस तापमान होना आवश्यक है।

खेत की तैयारी

  • सबसे पहले अच्छी तरह जुताई करके खेत को समतल कर लें।
  • जल संरक्षण के लिए मेड़ बना दें।
  • खेत की जुताई रोटावेटर से जरूर करें।

किन क्षेत्रों में होती है खेती

इसकी खेती मुख्यत कर्नाटक, केरल और तमिलनाडु में सबसे ज्यादा की जाती है।

बुवाई कैसे करें?

  • बीज की बुवाई 10 सेंटीमीटर की दूरी पर करें।
  • एक हेक्टेयर में नर्सरी तैयार करने के लिए एक किलो बीज पर्याप्त होते हैं।
  • जब इलायची के बीज का अंकुरण होने लगे तो इसे सूखी घास से ढक दें।
  • फिर नर्सरी में तैयार पौधे से पौधे की दूरी 60 सेमी रखें।

यह भी पढ़े: चेरी टमाटर की खेती कैसे करें, जानिए पूरी विधियों और किस्मों के बारे

सिंचाई

इसे ज्यादा सिंचाई की जरूरत नहीं होती।

पौधा लगाने के तुरंत बाद पहली सिंचाई करें।

इसके 10 से 15 दिन बाद आवश्यकता के हिसाब से इसकी सिंचाई करें।

कटाई

बीज पूरी तरह पकने से थोड़ा पहले ही कटाई कर लें।

कटाई करने के बाद इसे अच्छी तरह से साफ कर लें।

इसके बाद बीजों को अच्छी तरह से सुखा लें।

उपज और लाभ

  • इसकी खेती से 130 से 150 किलो प्रति हेक्टेयर पैदावार मिल सकती है।
  • बाजार में इसका भाव 1100 से लेकर 2000 हजार रुपए प्रति किलो के बीच रहता है।
  • इसकी खेती से आप 2 से 3 लाख का मुनाफा आसानी से कमा सकते हैं।

Published Date: 03/12/2022

English Summary: Get more profit by cultivating cardamom.

FOLLOW ME
मैं नवराज बरुआ, में मुख्य रूप से इंदौर मध्यप्रदेश का निवासी हुं। और में Mandi Market प्लेटफार्म का संस्थापक हूँ। मंडी मार्केट (Kisanguide.com) मूल रूप से मार्केट में चल रही ट्रेंडिंग खबरों को ठीक से समझाने और पाठकों को मंडी ख़बर, खेती किसानी की जानकारी देने के लिए बनाया गया है। पोर्टल पर दी गई जानकारी सार्वजनिक स्रोतों से प्राप्त की गई है।
3b007314ce2dbf44c150a2643ef016ce?s=250&d=mm&r=g
FOLLOW ME

Leave a Reply